इस शुभ मुहूर्त में करें दीपावली पूजन और पाएं सुख समृद्धि , शांति का वरदान

2
इस शुभ मुहूर्त में करें दीपावली पूजन और पाएं सुख समृद्धि , शांति का वरदान

इस शुभ मुहूर्त में करें दीपावली पूजन और पाएं सुख समृद्धि , शांति का वरदानदीपावली का त्योहार हिंदू संस्कृति के प्रमुख त्योहारों में से एक है। इस बार दीपावली का त्योहार 14 नवंबर को मनाया जाएगा। दीपावली का त्योहार धनतेरस के दिन से आरंभ हो जाता है। धनतेरस के अगले दिन छोटी दीपावली (नरक चतुर्दशी) होती है उसके अगले दिन यानि कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को लक्ष्मी पूजन होता है जिसे दीपावली कहते है।हालांकि इस वर्ष नरक चतुर्दशी और दीपावली की तिथियों को लेकर लोगों के बीच भ्रम की स्थिति है। आइए जानते है छोटी दीपावली (नरक चतुर्दशी) और दीपावली की सही तिथि और शुभ मुहूर्त।

कब है दीपावली 2020

इस वर्ष छोटी और बड़ी दीपावली दोनों ही एक ही दिन मनाई जाएगी। चतुर्दशी तिथि 13 नवंबर को सायं 5 बजकर 58 मिनट से प्रारंभ होगी जो 14 नवंबर को दोपहर 02 बजकर 17 मिनट तक रहेगी। इसके बाद अमावस्या लगने से दीपावली भी इसी दिन मनाई जाएगी। इस वर्ष कार्तिक मास की अमावस्या तिथि 14 नवंबर दिन शनिवार को है। अमावस्या तिथि का प्रारंभ 14 नवंबर को दोपहर में 02 बजकर 17 मिनट से हो रहा है, जो अगले दिन 15 नवंबर को दिन में 10 बजकर 36 मिनट तक है। ऐसे में दीपावली का त्योहार 14 नवंबर को मनाया जाएगा।

दीपावली का महत्व

भगवान राम जब लंका विजय कर पत्नी सीता और भाई लक्ष्मण के साथ वनवास पूरा करके अयोध्या वापस आए तब हर अयोध्यावासी ने भगवान राम के वनवास से नगर आगमन पर अपने घरों को दीपों से सजाया था। तब से हर वर्ष कार्तिक मास की अमावस्या को दीपावली मनाई जाती है।

दीपावली पूजा का शुभ मुहूर्त

दीपावली पूजा का शुभ मुहूर्त

दोपहर मुहूर्त – अपराह्न 02 बजकर 20 मिनट से 03 बजकर 55 मिनट तक।

सायं मुहूर्त    – सायं 05 बजकर 20 मिनट से रात्रि 07 बजकर 13 मिनट तक।

रात्रि मुहूर्त    – रात्रि 11 बजकर 46 मिनट से मध्यरात्रि 02 बजकर 02 मिनट तक।