जानिए शनि के अशुभ प्रभाव और इससे बचने के सरल उपाय

2
जानिए शनि के अशुभ प्रभाव और इससे बचने के सरल उपाय

बिना कुंडली और हस्तरेखा के द्वारा कैसे जानेंगे कि शनि शुभ है या अशुभ। यदि अशुभ है तो क्या उपाय किये जायें जिससे शनि की अशुभता में कमी आये।

प्रत्येक ग्रह की अपनी विशेषता होती है और प्रत्येक ग्रह के अपने लक्षण होते है। इन लक्षणों के आधार पर यह जाना जा सकता है कि ग्रह शुभ है या अशुभ।

अब जानते है अगर आपका शनि खराब हो तो क्या लक्षण होंगे

  • शनि खराब होने की स्थिति में व्यक्ति दुबला पतला होता है।
  • खराब शनि होने पर व्यक्ति की वाणी कठोर होती है। अक्सर आपने देखा होगा कुछ लोग जब भी बोलते है बुरा ही बोलते है। ऐसी स्थिति में शनि अशुभ ही होता है।
  • शनि खराब होने की स्थिति में काम नही बनेंगे। कोई भी काम शुरू नही होगा और शुरू हो भी जाएं तो उसमें लगातार कोई न कोई बाधा बानी रहेगी।
  • जिस व्यक्ति का शनि खराब होगा ऐसे व्यक्ति के जूते चप्पल घिसने लगते है। अर्थात ऐसे व्यक्ति के जूते चप्पलें जल्दी टूटते है एवं गन्दे भी रहते है।
  • जिसका भी शनि अशुभ होगा किसी न किसी कारण से रिश्ते खराब होने लगेंगे।
  • शनि खराब होने की स्थिति में शरीर में वायु संबंधित समस्याएं परेशान करती है।
  • शनि खराब होने पर बाल रूखे होते है।
  • शनि खराब होने की स्थिति में पैसा बार्बाद होना शुरू हो जाता है।

अब जानते है अगर आपका शनि अच्छा हो तो क्या लक्षण होंगे

  • जिसका भी शनि अच्छा होगा ऐसे व्यक्ति के बाल घने होते है।
  • शनि अच्छा होने की स्थिति में व्यक्ति अनुशासन युक्त जीवन जीता है। शनि अच्छा होने पर अनुशासन प्रिय बनाता है।
  • शनि अच्छा होने की स्थिति में व्यक्ति का मन अध्यात्म में लगता है। व्यक्ति आध्यात्मिक होता है।
  • शनि अच्छा होने की स्थिति में वैराग्य जागृत कर देता है। शनि अगर अच्छे परिणाम दे तो व्यक्ति उच्च कोटि का संन्यासी होता है।

शनि के बुरे प्रभाव को कम करने के उपाय

  • शनि को अच्छा करने के लिए सुबह जल्दी उठने की आदत डालें।
  • शनि के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए बुजुर्गो की सेवा करें।
  • शनि के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए बिजली, लोहे, लकड़ी का सामान खराब होने पर उसे तुरंत बनवाले या घर से हटा दें।
  • शनि के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए गरीबो की सेवा करें।
  • शनि के लिए किसी जरूरतमंद व्यक्ति को जूते चप्पल का दान करें।
  • शनि के बुरे प्रभाव को कम करने के लिए भगवान शिव या हनुमान जी की नियमित पूजा उपासना करें।इन उपायों को करने से आप शनि के द्वारा आ रही समस्याओं से बच सकते है।